Wednesday 19 September 2012

प्रभु ! कैसे करें आपका स्वागत ?

      
 विद्या और बुद्धि के देवता हे गणेश जी महाराज ! आपका आगमन ऐसे नाजुक समय में हो रहा है जब यह देश मानव शरीरधारी अपने भाग्य विधाताओं की बेजा हरकतों से  मुसीबतों के चक्रव्यूह में घिर गया है ! कृपया उन्हें थोड़ी सदबुद्धि तो दीजिए ,जो डीजल के दाम बढ़ाकर और रसोई गैस सिलेंडरों की कटौती करके आम जनता को परेशान कर रहे हैं , देशी बाज़ारों को जो विदेशी व्यापारियों के हाथों गिरवी रखने जा रहे है !
      हे विघ्न विनाशक ! हम तो आज धर्म संकट में पड़ गए हैं .इस घोर संकट से हमें जल्द उबारिये प्रभु ! आप ही बताइये ! हम कैसे करें आपका स्वागत ,जब कदम -कदम पर  एक से बढ़कर एक विघ्न हमारे सामने पहाड़ की तरह खड़े हो रहे हैं , देश में हर तरफ महंगाई का सैलाब नज़र आ रहा है और दाल-आटे का भाव आसमान छूने लगा है . दूध और फलों के दाम सातवें आसमान पर हैं ! होटलों में नकली दूध और नकली खोवे की मिठाईयाँ  खुले आम बिक रही हैं . हम जानते है - आपको मोदक प्रिय हैं ,लेकिन हम आपको नकली मोदकों का भोग लगाने का दुस्साहस भला कैसे कर पाएंगे ? जहां तक फलों की बात करें ,वह भी तो कार्बाइड जैसे घातक रसायनों में पका कर और नुकसानदायक  रंगों में रंग कर बेचे जा रहे है . मिलावटखोरों  का धंधा तेजी से चल रहा है और वह जनता की जिंदगी से खुल कर खिलवाड़ कर रहे है .कोई देखने ,रोकने और टोकने वाला नहीं है . डाक्टर आज भी अपने मरीजों को दूध पीने और फल खाने की सलाह देते हैं ,लेकिन इतनी महंगाई और मिलावट के इस दौर में यह कैसे संभव है ?
           हे गणपति बप्पा ! आज़ादी के बाद हमारे भारत में लाखों स्कूल और हजारों कॉलेज खुल गए ,लेकिन उनमे पढ़-लिख कर निकलते युवा हमेशा की तरह बेरोजगारों की अनंत कतार में खड़े रहने को मजबूर हैं . भ्रष्टाचार की काली कमाई से कुछ लोगों के साधारण मकान अब महल सरीखे सीना तान कर खड़े नज़र आ रहे हैं . कल तक पुरानी सायकल पर घूमने वाले कुछ लोग रातों-रात महंगी गाड़ियों के मालिक बन गए हैं. क्या यह सब उन्हें ईमानदारी की कमाई से प्राप्त हुआ है ? हे गणपति बप्पा ! देश की इस दुर्दशा के लिए ज़िम्मेदार लोगों को सदबुद्धि के साथ चेतावनी भी दीजिए ! फिर भी अगर वह नहीं मानते तो क्या आप अपनी अदालत में मुकदमा चलाकर उन्हें दण्डित करेंगे ? तभी तो हम आपका स्वागत कर पाएंगे !         -- स्वराज्य करुण


3 comments:

  1. MANGAL KAMANA GANAPATI JI SE HAMARI BHI SUNE

    ReplyDelete
  2. .
    ¸.•*´¨`*•.¸¸.•*´¨`*•.¸¸.•*´¨`*•.¸
    ॐ गं गं गं गणपतये नमः !
    गणेश चतुर्थी मंगलमय हो !
    `*•.¸¸.•*´¨`*•.¸¸.•*´¨`*•.¸¸.•*´

    ReplyDelete
  3. विघ्नहर्ता....गणपति बप्पा !

    ReplyDelete