Wednesday 14 September 2011

हिन्दी -डे ' सेलिब्रेट 'करना है !

                  

                    अजी सुनते हो ! बंटी के स्कूल में हिन्दी दिवस मेरा मतलब  हिन्दी-डे मनाया जाएगा , अरे मनाया  नहीं, सेलिब्रेट किया जाएगा .  अभिभावक , ओफ  ओ , कितना मुश्किल वर्ड है ये भी,  मेरा मतलब पैरेंट्स को ,यानी गार्जियंस को भी  वहाँ बुलाया गया है.
                   अच्छा है जी ,  शादी के बाद तुम्हारी नौकरी लगी और हम लोग  शहर आ गए .बंटी भी शहर में पैदा हुआ ,वरना उसे भी गाँव की हवा लग जाती और वह भी गंवारों की तरह बन जाता , गाँव के स्कूल में गाँव के बच्चों के संग  टाट-पट्टी में ज़मीन पर बैठ कर ए,. बी , सी.डी  नहीं , क,ख, ग , सीखता . ,वन ,टू,थ्री ,फोर की जगह एक,दो, तीन, चार बोलता ., पोयम की जगह कविता रटता .गुड-मॉर्निग की जगह नमस्ते बोलता , शेक-हैंड की जगह अपने से उम्र में बड़े लोगों के चरण छूता  और गलियों में  गिल्ली डंडा खेलता .
            अच्छा हुआ जी,हम लोगों ने अपने बंटी का नाम इंग्लिश स्कूल में लिखवा दिया . कहाँ वो गाँव की टाट पट्टी वाली सरकारी प्राथमिक पाठशाला और कहाँ ये शहर का 'लिटिल फ्लावर' इंग्लिश मीडियम स्कूल . अपना बंटी होशियार ...ओहो , वेरी सौरी, होशियार नहीं, टैलेंटेड हो गया है.  अपनों से बड़ों को वह समय के हिसाब से गुड-मॉर्निंग और गुड-नाईट ,कहना सीख गया है. अपने स्कूल की शिक्षिका ,अरे वही , शिक्षिका यानी मेम   को वह अपने इंग्लिश बुक की हर पोयम  सुनाता है .अजी सुनो, छह महीने बाद हमारे घर एक 'नया मेहमान' भी तो आने वाला है . बंटी के स्कूल वालों ने विज्ञापन छपवाया है- इंग्लिश मीडियम स्कूल में उन बच्चों के लिए भी सीटों की एडवांस बुकिंग हो रही है ,जो अभी पैदा भी नहीं हुए हैं.लेकिन अगले कुछ महीनों में पैदा होने वाले हैं .सुनो जी ! हम लोग भी बुकिंग करवा लेते हैं ना ! छह महीने बाद मेरी गोद में बबला या बबली ,जो भी आए, उसका तो भविष्य ,ओहो ...भविष्य नहीं, फ्यूचर सुरक्षित यानी सिक्योर्ड हो जाएगा .
        अच्छा चलो अब सो जाते हैं. कल १४ सितम्बर को बंटी के स्कूल में 'हिन्दी -डे '  .सेलिब्रेट करने जाना है .
                                                                                              
                                                                                                           -   स्वराज्य करुण 







8 comments:

  1. इसी तरह हिंदी सेवा करते रहें....... :)))

    हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनायें...

    ReplyDelete
  2. बहुत खूब ...

    हिन्‍दी दिवस की शुभकामनाओं के साथ ...
    इसकी प्रगति पथ के लिये रचनाओं का जन्‍म होता रहे ...

    आभार ।

    ReplyDelete
  3. वंदना गुप्ता जी की तरफ से सूचना

    आज 14- 09 - 2011 को आपकी पोस्ट की चर्चा यहाँ भी है .....


    ...आज के कुछ खास चिट्ठे ...आपकी नज़र .तेताला पर
    ____________________________________

    ReplyDelete
  4. आपकी पोस्ट आज के चर्चा मंच पर प्रस्तुत की गई है कृपया पधारें
    चर्चामंच-638, चर्चाकार-दिलबाग विर्क

    ReplyDelete
  5. सटीक और धारदार व्यंग्य ...

    ReplyDelete
  6. बढ़िया और ऐसे लोगों की गिनती भी चाहिए न ताकि अंग्रेजी वालों को सूची देनी पड़े तो आसानी हो। बेचारों को बड़ा हिसाब-किताब भी तो करना है।

    ReplyDelete